दुष्कर्म के आरोपी को भागने की कोशिश में महिला एएसआई के साथ की मारपीट

Spread the love

हरियाणा। करनाल के निसिंग थाने में तैनात महिला एएसआई के साथ एक व्यक्ति समेत पांच महिलाओं ने मिलकर मारपीट की और वर्दी फाड़ दी। आरोपियों ने थाने से परिवार के सदस्य को भगाने की कोशिश की, मगर एएसआई और अन्य पुलिसकर्मियों ने आरोपी को भागने नहीं दिया। जबकि एएसआई से मारपीट करने वाले आरोपी मौके से भाग निकले। पुलिस निसिंग थाने में छह लोगों के खिलाफ नामजद केस दर्ज कार्रवाई शुरू कर दी है। हालांकि अभी आरोपी पुलिस की गिरफ्त में नहीं आ सके।

निसिंग थाने में सहायक उप निरीक्षक मीनू रानी ने थाने में दी शिकायत में बताया कि वह शुक्रवार को थाने में थी। इसी दौरान गोंदर निवासी महिला ने दुष्कर्म की शिकातय लेकर आए। महिला के भाई ने शिकायत लिखकर दी। जिसके अनुसार 376 आईपीसी की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया। इस केस में आरोपी गोंदर के रहने वाले आरोपी रविंद्र को थाने लाया गया। आरोपी को जब पुलिस ने थाने में बैठा लिया तो परिजनों का गुस्सा भड़क गया। थाने में आरोपी के परिवार से सुषमा उर्फ कोक, सरोज पहुंची और हंगामा करने लगी। हंगामा करने से रोका तो एएसआई से मारपीट करने लगी।

पुलिस ने शिकायतकर्ता पीडि़ता की महिला की काउंसलिंग कराई तो बयान में कहा कि मैने प्रबन्धक अफसर थाना निसिंग को हालात बताये तो उन्होंने आरोपी रविन्द्र को गिरफतार करने के आदेश दिये। एएसआई और अन्य पुलिसकर्मी गाड़ी में बैठाने के बाद आरोपी का मेडिकल कराने के लिए लेकर जा रहे थे। गाड़ी में बैठाते ही आरोपी के परिवार के सदस्य कोको उर्फ सुषमा, काकी , पप्पी, इन्द्र, मिता व सरोज ने आरोपी रविन्द्र पुत्र ठाठ सिंह निवासी वासी गोन्दर आरोपी को भगाने की कोशिश की। जब आरोपियों को रोेका तो उन्होंने एएसआई मीनू के साथ मारपीट की और वर्दी भी फाड़ दी। पुलिस ने सख्ती करते हुए आरोपी व्यक्ति को भागने नहीं दिया। जबकि पुलिस से मारपीट करने वाले आरोपी मौके से भाग निकले। आरोपियों के खिलाफ थाने में नामजद केस दर्ज कर लिया गया।

Samachaar India

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *