‘कांतारा’ ने साल की सबसे कमाऊ फिल्म ‘केजीएफ 2’ को भी पछाड़ा, बॉक्स आफिस पर बनाया नया रिकॉर्ड

Spread the love

बॉक्स आफिस पर धुंआधार कमाई कर रही ‘कांतारा’  ने हिंदी बेल्ट में रिटर्न के मामले में  केजीएफ 2 को पीछे छोड़ दिया है। खास बात यह है कि फिल्म को हिंदी बेल्ट में रिलीज हुए अभी 17 दिन हुए हैं और बॉक्स ऑफिस पर इसकी कमाई का ताबड़तोड़ सिलसिला जारी है। 17 दिन में फिल्म के हिंदी वर्जन ने लगभग 42.95 करोड़ रुपए का कलेक्शन कर लिया है और यह यहां ना केवल सुपरहिट हो गई है, बल्कि  केजीएफ 2 को पछाडक़र साल की तीसरी सबसे ज्यादा प्रॉफिट उठाने वाली फिल्म भी बन गई है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, ऋषभ शेट्टी के निर्देशन में बनी और उन्हीं के अभिनय से सजी ‘कांतारा’ के हिंदी वर्जन में लगी लागत लगभग 7.50 करोड़ रुपए है। अब अगर इस रकम को अब तक हुई कुल कमाई में से निकाल देते हैं तो यह 35.45 करोड़ रुपए बचती है, जो कि फिल्म का प्रॉफिट है। यह लागत के मुकाबले तकरीबन 472.66 फीसदी है। फिल्म का हिंदी वर्जन 14 अक्टूबर को रिलीज हुआ था। अब बात यश स्टारर  केजीएफ 2 की करते हैं। यह भी ‘कांतारा’ की तरह ही होम्ब्ले फिल्म्स के बैनर तले बनी कन्नड़ फिल्म है। प्रशांत नील के निर्देशन में बनी इस फिल्म को 14 अप्रैल 2022 को कन्नड़ के साथ-साथ हिंदी, तमिल, तेलुगु और मलयालम भाषा में रिलीज किया गया था। फिल्म की लागत तकरीबन 90 करोड़ रुपए बताई जाती है, जबकि हिंदी बेल्ट में इसकी कमाई लगभग 434.62 करोड़ रुपए रही थी।

इस हिसाब से फिल्म 344.62 करोड़ रुपए का प्रॉफिट उठाया था, जो कि लागत के मुकाबले करीब 382.91 प्रतिशत है। ‘कांतारा’ की कमाई की रफ़्तार देखते हुए यह स्पष्ट है कि जल्दी ही यह रिटर्न के मामले में तेलुगु फिल्म ‘कार्तिकेय 2’ के हिंदी वर्जन को भी पछाड़ देगी और दूसरी सबसे प्रॉफिटेबल फिल्म बन जाएगी। ‘कार्तिकेय 2’ के हिंदी वर्जन की लागत लगभग 4.5 करोड़ रुपए थी, जबकि बॉक्स ऑफिस पर इसका कलेक्शन करीब 30 करोड़ रुपए रहा। यानी कि इस फिल्म ने 25.50 करोड़ रुपए का प्रॉफिट उठाया, जो कि लागत के मुकाबले लगभग 566.66 फीसदी है।

Samachaar India

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *