जेल में मनेगी संजय राउत की जन्माष्टमी, जमीन घोटाला मामले में कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा

जेल में मनेगी संजय राउत की जन्माष्टमी, जमीन घोटाला मामले में कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा

[ad_1]

मुंबई । मुंबई की एक विशेष अदालत ने शहर में एक चॉल के पुनर्विकास में कथित अनियमितताओं से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में सोमवार को शिवसेना सांसद संजय राउत को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया। अदालत ने राउत का घर से बना खाना और दवाएं मंगाने का अनुरोध स्वीकार कर लिया। हालांकि, उसने बिस्तर के उनके अनुरोध पर कोई आदेश पारित करने से इनकार कर दिया। जज ने कहा कि जेल की नियमावली के अनुसार जेल प्राधिकारियों ने बिस्तर की पूरी व्यवस्था की है। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने 60 वर्षीय राउत को उपनगर गोरेगांव में पात्रा चॉल के पुनर्विकास में कथित वित्तीय अनियमितताओं के संबंध में एक अगस्त को गिरफ्तार किया था।

उन्हें सोमवार को ईडी की हिरासत खत्म होने पर धन शोधन रोकथाम कानून (पीएमएलए) के विशेष न्यायाधीश एमजी देशपांडे की अदालत में पेश किया गया था। ईडी ने उनकी हिरासत अवधि बढ़ाए जाने की मांग नहीं की। इसके बाद जज ने राउत को न्यायिक हिरासत में भेज दिया। ईडी की जांच पात्रा चॉल के पुनर्विकास में कथित वित्तीय अनियमितताओं, राउत की पत्नी और साथियों से संबंधित वित्तीय लेनदेन से जुड़ी है। ईडी के अधिकारियों ने 31 जुलाई को संजय राउत के घर छापेमारी की थी और उनसे कई घंटों तक पूछताछ के बाद 1 अगस्त को गिरफ्तार कर लिया। इसी साल 28 जून को ईडी ने 1034 करोड़ रुपये के पत्रा चॉल जमीन घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग कनेक्शन में राउत को समन भेजा था। इससे पहले संजय राउत की पत्नी वर्षा मनी लॉन्ड्रिंग मामले में शनिवार को ईडी के सामने पेश हुई थीं। ईडी ने इस हफ्ते की शुरुआत में वर्षा राउत को समन भेजे थे। वह शनिवार सुबह 10 बजकर 40 मिनट पर दक्षिण मुंबई में बलार्ड एस्टेट स्थित ईडी के कार्यालय पहुंची थीं।



[ad_2]

Source link

Samachaar India

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *